Rabi’unnoor Aaya Hai Naat Lyrics

Rabi’unnoor Aaya Hai Naat Lyrics

 

रबी’उन्नूर आया है, रबी’उन्नूर आया है
रबी’उन्नूर आया है, रबी’उन्नूर आया है

रहें हाथों में झंडियाँ, चलो बाँटे मिठाईयाँ
जलाओ मोम-बत्तियाँ, सजे दरवाज़े खिड़कियाँ
गिराओ जलने वालों के दिलों पर आज बिजलियाँ
ज़मीं महकी, फ़लक चमका है, का’बा मुस्कुराया है

रबी’उन्नूर आया है, रबी’उन्नूर आया है
रबी’उन्नूर आया है, रबी’उन्नूर आया है

फ़रिश्ते झंडे लहराते हैं अब्दुल्लाह की छत पर
लगी हैं सारी हूरें आमिना बीबी की ख़िदमत पर
ख़ुदा ने लिख दिया ख़त्मुर्रुसूल बाब-ए-रिसालत पर
नबी-ए-आख़िरी से आज ‘आलम जगमगाया है

रबी’उन्नूर आया है, रबी’उन्नूर आया है
रबी’उन्नूर आया है, रबी’उन्नूर आया है

ना’त-ख़्वाँ:
ग़ुलाम ग़ौस ग़ज़ाली

 

rabi’unnoor aaya hai
rabi’unnoor aaya hai

rahe.n haatho.n me.n jhandiyaa.n
chalo baante.n miThaaiyaa.n
jalaao mom-battiyaa.n
saje darwaaze khi.Dkiyaa.n
giraao jalne waalo.n ke –
dilo.n par aaj bijliyaa.n
zamee.n mahki, falak chamka hai
kaa’ba muskuraaya hai

rabi’unnoor aaya hai
rabi’unnoor aaya hai

farishte jhande lahraate hai.n –
abdullah ki chat par
lagi hai.n saari hoore.n aamina –
bibi ki KHidmat par
KHuda ne likh diya KHatmurrusool –
baab-e-risaalat par
nabi-e-aaKHiri se aaj ‘aalam –
jagmagaaya hai

rabi’unnoor aaya hai
rabi’unnoor aaya hai

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *