Mujhe Koofa Waalo Musaafir Na Samjho Main Aaya Nahin Hun Bulaaya Gaya Hun Naat Lyrics

Mujhe Koofa Waalo Musaafir Na Samjho Main Aaya Nahin Hun Bulaaya Gaya Hun Naat Lyrics

 

 

मुझे, कूफ़ा वालो ! मुसाफ़िर न समझो
मैं आया नहीं हूँ, बुलाया गया हूँ
कि मेहमाँ बना कर सताया गया हूँ
मैं रोया नहीं हूँ, रुलाया गया हूँ

मुझे, कूफ़ा वालो ! मुसाफ़िर न समझो
मैं आया नहीं हूँ, बुलाया गया हूँ

ख़ुदा जाने कैसी है ये मेज़बानी
बहत्तर प्यासों का है बंद पानी
मुक़द्दर में है हौज़-ए-कौसर का पीना
मैं प्यासा नहीं हूँ, पिलाया गया हूँ

मुझे, कूफ़ा वालो ! मुसाफ़िर न समझो
मैं आया नहीं हूँ, बुलाया गया हूँ

झुका था जो सर बारगाह-ए-ख़ुदा में
वही सर क़लम हो गया कर्बला में
शहादत की मंज़िल को पाया है मैं ने
मैं मुर्दा नहीं हूँ, जिलाया गया हूँ

मुझे, कूफ़ा वालो ! मुसाफ़िर न समझो
मैं आया नहीं हूँ, बुलाया गया हूँ

नात-ख़्वाँ:
शैख़ अनाम

 

mujhe, koofa waalo ! musaafir na samjho
mai.n aaya nahi.n hu.n, bulaaya gaya hu.n
ki mehmaa.n bana kar sataaya gaya hu.n
mai.n roya nahi.n hu.n, rulaaya gaya hu.n

mujhe, koofa waalo ! musaafir na samjho
mai.n aaya nahi.n hu.n, bulaaya gaya hu.n

KHuda jaane kaisi hai ye mezbaani
bahattar pyaaso.n ka hai band paani
muqaddar me.n hai hauz-e-kausar ka peena
mai.n pyaasa nahi.n hu.n, pilaaya gaya hu.n

mujhe, koofa waalo ! musaafir na samjho
mai.n aaya nahi.n hu.n, bulaaya gaya hu.n

jhuka tha jo sar baargaah-e-KHuda me.n
wahi sar qalam ho gaya karbala me.n
shahadat ki manzil ko paaya hai mai.n ne
mai.n murda nahi.n hu.n, jilaaya gaya hu.n

mujhe, koofa waalo ! musaafir na samjho
mai.n aaya nahi.n hu.n, bulaaya gaya hu.n

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *