noor ki anjuman fatima manqabat lyrics

noor ki anjuman fatima manqabat lyrics

 

 

नूर की अंजुमन फ़ातिमा

Noor ki anjuman Fatima Lyrics in Hindi

 

Noor ki anjuman Fatima
Markaz-e-Panjatan Fatima

नूर की अंजुमन फ़ातिमा
मरक़ज ए पंजतन फ़ातिमा

 

Arsh se ban ke aayi hai tu
Murtaza ki dulhan Fatima

अर्श से बन के आई है तू
मुर्तुज़ा की दुल्हन फ़ातिमा

 

Kehkasha se ziyada haseen
Tere ghar ka chaman Fatima

कहकशा से ज़्यादा हसीं
तेरे घर का चमन फ़ातिमा

 

Teri mamta ke hain do nayan
Ik Hussain Ik Hasan Fatima

तेरी ममता के हैं दो नयन
इक हुसैन इक हसन फ़ातिमा

 

Khuld ka Arsh par hai dimaag
Chhoo ke tere charan Fatima

खुल्द का अर्श पर है दिमाग
छू के तेरे चरन फ़ातिमा

 

Kab kisi maa ne paida kiye
Phir Hussain o Hasan Fatima

कब किसी मां ने पैदा किया
फिर हुसैन ओ हसन फ़ातिमा

 

Ban gaya Tera Bagh e Fidaq
Ghaziyon ka qafan fatima

बन गया तेरा बाग़ ए फ़िदक़
ग़ाज़ियों का कफ़न फ़ातिमा

 

Boli zinab se Rooh e Ali
Sar Utha Aur Ban Fatima

बोली ज़ैनब से रुह ए अ़ली
सर उठा और बन फ़ातिमा

 

Tere Shauhar ke dar se mila
Humko rizqe sukhan Fatima

तेरे शौहर के दर से मिला
हमको रिज़्क़ ए सुख़न फ़ातिमा

 

Gair ne Jisko dekha nahi
Tera woh pairahan Fatima

गैर ने जिसको देखा नहीं
तेरा वोह पैरहन फ़ातिमा

 

Hai Mashi’at Tere Saath Me
Jaise Chhoti Bahan Fatima

है मशी’अत तेरे साथ यूं
जैसे छोटी बहन फ़ातिमा

 

Hai qaul e nabi ae Sarosh
Mera Tan Mera Man Fatima

है ये क़ौल ए नबी ऐ सरोश
मेरा तन मेरा मन फ़ातिमा

 

Manqabat bibi fatima lyrics

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *