Ab Goonjta Ye Naa’ra Dekho Gali Gali Hai Mera Nabi Muhammad Hi Aakhri Nabi Hai Naat Lyrics

Ab Goonjta Ye Naa’ra Dekho Gali Gali Hai Mera Nabi Muhammad Hi Aakhri Nabi Hai Naat Lyrics

 

फ़रमान-ए-मुस्तफ़ा, “ला नबिय्य बा’दी”
ला नबिय्य बा’दी, ला नबिय्य बा’दी

मन सब्ब नबिय्यन फ़क़्तुलूहु
मन सब्ब नबिय्यन फ़क़्तुलूहु

अब गूँजता ये ना’रा देखो गली गली है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है
सर को उठा के कहता हर एक उम्मती है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

ताजदार-ए-ख़त्म-ए-नुबुव्वत
ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद !

ये बात रब ने ख़ुद ही क़ुरआन में बता दी
फ़रमान-ए-मुस्तफ़ा भी है “ला नबिय्य बा’दी”
बा’द उन के ता-क़यामत कोई नबी नहीं है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

अब गूँजता ये ना’रा देखो गली गली है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

ताजदार-ए-ख़त्म-ए-नुबुव्वत
ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद !

अव्वल भी है मुहम्मद, आख़िर भी है मुहम्मद
बातिन भी है मुहम्मद, ज़ाहिर भी है मुहम्मद
बे-मिस्ल-ओ-बे-मिसाली उन के लिए बनी है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

अब गूँजता ये ना’रा देखो गली गली है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

ताजदार-ए-ख़त्म-ए-नुबुव्वत
ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद !

आएगा जो भी तूफ़ाँ, रुख़ मोड़ देंगे उस का
जो शातिम-ए-नबी है मुँह तोड़ देंगे उस का
यक जान हो के कहता हर एक उम्मती है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

अब गूँजता ये ना’रा देखो गली गली है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

ताजदार-ए-ख़त्म-ए-नुबुव्वत
ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद !

सीने लगा के माँ ने हम को यही पिलाया
अस्लाफ़ ने भी, राशिद ! हम को यही बताया
गुज़री इसी ‘अक़ीदे पे सारी ज़िंदगी है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

अब गूँजता ये ना’रा देखो गली गली है
मेरा नबी मुहम्मद ही आख़री नबी है

ताजदार-ए-ख़त्म-ए-नुबुव्वत
ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद ! ज़िंदाबाद !

मन सब्ब नबिय्यन फ़क़्तुलूहु
मन सब्ब नबिय्यन फ़क़्तुलूहु

नात-ख़्वाँ:
मौलाना बिलाल रज़ा क़ादरी

 

farmaan-e-mustafa, “laa nabiyy baa’di”
laa nabiyya baa’di, laa nabiyy baa’di

man sabb nabiyyan faqtuluhu
man sabb nabiyyan faqtuluhu

ab goonjta ye naa’ra dekho gali gali hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai
sar ko uTha ke kahta har ek ummati hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

taajdaar-e-KHatm-e-nubuwwat
zindaabaad ! zindaabaad !
zindaabaad ! zindaabaad !

ye baat rab ne KHud hi qur.aan me.n bata di
farmaan-e-mustafa bhi hai “laa nabiyy baa’di”
baa’d un ke taa-qayaamat koi nabi nahi.n hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

ab goonjta ye naa’ra dekho gali gali hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

taajdaar-e-KHatm-e-nubuwwat
zindaabaad ! zindaabaad !
zindaabaad ! zindaabaad !

awwal bhi hai muhammad
aaKHir bhi hai muhammad
baatin bhi hai muhammad
zaahir bhi hai muhammad
be-misl-o-be-misaali un ke liye bani hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

ab goonjta ye naa’ra dekho gali gali hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

taajdaar-e-KHatm-e-nubuwwat
zindaabaad ! zindaabaad !
zindaabaad ! zindaabaad !

aaega jo bhi toofaa.n, ruKH mo.D denge us ka
jo shaatim-e-nabi hai moonh to.D denge us ka
yak jaan ho ke kahta har ek ummati hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

ab goonjta ye naa’ra dekho gali gali hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

taajdaar-e-KHatm-e-nubuwwat
zindaabaad ! zindaabaad !
zindaabaad ! zindaabaad !

seene laga ke maa.n ne ham ko yahi pilaaya
aslaaf ne bhi, Raashid ! ham ko yahi bataaya
guzri isi ‘aqeede pe saari zindagi hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

ab goonjta ye naa’ra dekho gali gali hai
mera nabi muhammad hi aaKHri nabi hai

taajdaar-e-KHatm-e-nubuwwat
zindaabaad ! zindaabaad !
zindaabaad ! zindaabaad !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *