Hai Shahd Se Bhi Meetha Sarkaar Ka Madina Naat Lyrics

Hai Shahd Se Bhi Meetha Sarkaar Ka Madina Naat Lyrics

 

 

है शहद से भी मीठा सरकार का मदीना
क्या ख़ूब महका महका सरकार का मदीना

हम को पसंद आया सरकार का मदीना
क्यूँ हो न अपना ना’रा ‘सरकार का मदीना’

हर शहर से है अच्छा सरकार का मदीना
जन्नत से भी सुहाना सरकार का मदीना

बे-कस का है सहारा सरकार का मदीना
बे-घर का है ठिकाना सरकार का मदीना

दोनों जहाँ से प्यारा, कौन-ओ-मकाँ से प्यारा
हर आँख का है तारा सरकार का मदीना

जन्नत का हुस्न सारा इस में सिमट कर आया
है हुस्न ही सरापा सरकार का मदीना

फ़ुर्क़त की आग में जो दिल को जला रहे है
उन को दिखा, ख़ुदाया ! सरकार का मदीना

ए ज़ाइर-ए-मदीना ! दिल को संभाल लेना
देख आ गया मदीना, सरकार का मदीना

पेरिस पे मरने वाले ! पेरिस को भूल जाता
तू भी जो देख लेता सरकार का मदीना

फूलों को चूमता हूँ, काँटों को चूमता हूँ
लगता है मुझ को प्यारा सरकार का मदीना

जी चाहता है मेरा हर शय यहाँ की चूमूँ
कैसा है मीठा मीठा सरकार का मदीना

मेरी नज़र को भाए दुनिया का हुस्न कैसे ?
आँखों में है समाया सरकार का मदीना

अल्लाह ! मुस्तफ़ा के क़दमों में मौत दे दे
मदफ़न बने हमारा सरकार का मदीना

अत्तार की दुआ है तक़दीर में, ख़ुदाया !
लिख दे फ़क़त मदीना, सरकार का मदीना

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *