Allah Tera Ehsaan Ramzaan Mubaarak Hai Naat Lyrics

Allah Tera Ehsaan Ramzaan Mubaarak Hai Naat Lyrics

 

 

अल्लाह तेरा एहसाँ, रमज़ान मुबारक है
बख़्शिश का मिला सामाँ, रमज़ान मुबारक है

अल्लाह तेरा एहसाँ, रमज़ान मुबारक है

पाबंदी नमाज़ों की हर आन तू करना और
पढ़ पढ़ के सुना क़ुरआँ, रमज़ान मुबारक है

अल्लाह तेरा एहसाँ, रमज़ान मुबारक है

हम लाख ख़ताओं में मसरूफ़ रहे लेकिन
अब बख़्श दे, ए रहमाँ ! रमज़ान मुबारक है

अल्लाह तेरा एहसाँ, रमज़ान मुबारक है

इस माह में जन्नत के दरवाज़े खुले सारे
और क़ैद हुआ शैताँ, रमज़ान मुबारक है

अल्लाह तेरा एहसाँ, रमज़ान मुबारक है

जितनी भी कमानी है नेकी, तू कमा लेना
दिन तीस का बस मेहमाँ रमज़ान मुबारक है

अल्लाह तेरा एहसाँ, रमज़ान मुबारक है

सत्तर के बराबर है हर छोटी बड़ी नेकी
रहमत से मुनव्वर, हाँ ! रमज़ान मुबारक है

अल्लाह तेरा एहसाँ, रमज़ान मुबारक है

जो लेना है वो ले ले इस तंगी-ए-दामाँ में
क्यूँ सोच रहा नादाँ, रमज़ान मुबारक है

अल्लाह तेरा एहसाँ, रमज़ान मुबारक है

बेख़ुद ! जो मिला तुझ को इस साल महीना ये
कर शुक्र-ए-ख़ुदा हर आँ, रमज़ान मुबारक है

शायर:
वसीम बेख़ुद

ना’त-ख़्वाँ:
हसनैन अत्तारी

 

allah tera ehsaa.n, ramzaan mubaarak hai
baKHshish ka mila saamaa.n, ramzaan mubaarak hai

allah tera ehsaa.n, ramzaan mubaarak hai

paabandi namaazo.n ki har aan tu karna aur
pa.Dh pa.Dh ke suna qur.aa.n, ramzaan mubaarak hai

allah tera ehsaa.n, ramzaan mubaarak hai

ham laakh KHataao.n me.n masroof rahe lekin
ab baKHsh de, ai rahmaa.n ! ramzaan mubaarak hai

allah tera ehsaa.n, ramzaan mubaarak hai

is maah me.n jannat ke darwaaze khule saare
aur qaid huaa shaitaa.n, ramzaan mubaarak hai

allah tera ehsaa.n, ramzaan mubaarak hai

jitni bhi kamaani hai neki, tu kama lena
din tees ka bas mehmaa.n ramzaan mubaarak hai

allah tera ehsaa.n, ramzaan mubaarak hai

jo lena hai wo le le is tangi-e-daamaa.n me.n
kyu.n soch raha naadaa.n, ramzaan mubaarak hai

allah tera ehsaa.n, ramzaan mubaarak hai

BeKHud ! jo mila tujh ko is saal mahina ye
kar shukr-e-KHuda har aa.n, ramzaan mubaarak hai

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *