Allah Allah Main Guhahgaar Hun Tu Gaffar Hai Maula Naat Lyrics

Allah Allah Main Guhahgaar Hun Tu Gaffar Hai Maula Naat Lyrics

 

 

तू रहीम है, ख़ुदा !
तू करीम है, ख़ुदा !
तू ‘अलीम-ओ-हलीम है
तू ‘अज़ीम है, अल्लाह !

अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !
अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !

मैं गुनहगार हूँ, तू ग़फ़्फ़ार है, मौला !
मैं सियाह-कार हूँ, तू सत्तार है, मौला !
हर एक जुर्म से तू कर दे मुझे रिहा

अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !
अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !

लाचार जो हुए हैं, बीमार जो पड़े हैं
सर को झुकाए, मौला ! तेरे दर पे आ खड़े हैं
हर एक मर्ज़ से तू दे दे उन्हें शिफ़ा

अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !
अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !

तेरे हसीन दर का, तुझे वास्ता है, या रब !
पंज-तन के पाक घर का, तुझे वास्ता है, या रब !
तेरा ज़िक्र मेरे लब पर जारी रहे सदा

अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !
अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !

जब हाज़ी और अहमद, रंज-ओ-अलम से हारे
‘ला तक़्नतू’ से हम को है मिले तेरे सहारे
ब-तुफ़ैल-ए-आक़ा कर दे तू दूर हर बला

अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !
अल्लाह ! अल्लाह ! अल्लाह !

ना’त-ख़्वाँ:
हाफ़िज़ अहमद रज़ा क़ादरी

 

tu raheem hai, KHuda !
tu kareem hai, KHuda !
tu ‘aleem-o-haleem hai
tu ‘azeem hai, allah !

allah ! allah ! allah !
allah ! allah ! allah !

mai.n gunahgaar hu.n, tu Gaffaar hai, maula !
mai.n siyah-kaar hu.n, tu sattaar hai, maula !
har ek jurm se tu kar de mujhe riha

allah ! allah ! allah !
allah ! allah ! allah !

laachaar jo hue hai.n, beemaar jo pa.De hai.n
sar ko jhukaae, maula ! tere dar pe aa kha.De hai.n
har ek marz se tu de de unhe.n shifa

allah ! allah ! allah !
allah ! allah ! allah !

tere haseen dar ka, tujhe waasta hai, ya rab !
panj-tan ke paak ghar ka, tujhe waasta hai, ya rab !
tera zikr mere lab par jaari rahe sadaa

allah ! allah ! allah !
allah ! allah ! allah !

jab Haazi aur Ahmad, ranj-o-alam se haare
‘laa taqnatoo’ se ham ko hai mile tere sahaare
ba-tufail-e-aaqa kar de tu door har balaa

allah ! allah ! allah !
allah ! allah ! allah !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *