Tag: हैं महबूब-ए-सुब्हानी

मेरे ग़ौस पिया जीलानी हैं महबूब-ए-सुब्हानी

मेरे ग़ौस पिया जीलानी हैं महबूब-ए-सुब्हानी मेरे ग़ौस पिया जीलानी, हैं महबूब-ए-सुब्हानी मेरे ग़ौस पिया जीलानी, हैं महबूब-ए-सुब्हानीछूटती है तो छूटे दुनिया ग़ौस का दामन न छोड़ेंगे अपने गले में…