टुकड़े किये क़मर के तो सुरज फिरा दिया Lyrics

टुकड़े किये क़मर के तो सुरज फिरा दिया Lyrics   टुकड़े किये क़मर के तो सुरज फिरा दिया । आक़ा ने कंकरी को भी कलमा पढ़ा दिया ।। मूसा भी कोहे तूर पे ना देख पाए जो रब ने तुम्हे वो जलवा खुद ही दिखा दिया । करते थे जिसमें होने की फरियाद अंबिया रब …

टुकड़े किये क़मर के तो सुरज फिरा दिया Lyrics Read More »