Kya shan paayi allahu-akbar Siddiqu e akbar lyrics

 

Kya shan paayi allahu-akbar lyrics hindi

Scroll Down for English

 

क्या शान पाई, अल्लाहु-अकबर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर
सरकार के हो तुम ख़ास दिलबर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

 

तुम ही तो ठहरे पहले ख़लीफ़ा
हर इक सहाबी क़ाइल तुम्हारा
फ़ारूक़ हों या “उस्मान ओ हैदर”
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

क्या शान पाई, अल्लाहु-अकबर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

 

हर वक़्त आक़ा के साथ रहते
सफ़र-ओ-हज़र में, बाज़ारो घर में
अब भी लहद में उनके बराबर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

क्या शान पाई, अल्लाहु-अकबर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

 

कैसी है रौनक़ ! उस्मां, उमर भी
दरबार में हैं हाज़िर ‘अली भी
करते हैं बैअ़त शब्बीर ओ शब्बर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

क्या शान पाई, अल्लाहु-अकबर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

 

असहाब के गुन गाते रहेंगे
इज़्ज़त पे पहरा देते रहेंगे
हम भी उजागर ! ख़ादिम हैं नौकर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

क्या शान पाई, अल्लाहु-अकबर
सिद्दीक़ ए अकबर – सिद्दीक़ ए अकबर

 

Naat Khwan: Muhammad Adnan Attari
Shayar: Allama Nisar Ali Ujagar

Kya shan paayi allahu-akbar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar
Sarkar ke ho tum khaas dilbar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

 

Tum hi to thahre pahle khalifa
Har ik sahabi qaail tumhara
Farooq hon ya Usman o haider
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

Kya shan paayi allahu-akbar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

 

Har aaqa ke saath rahte
Safar o hazar mein, bazar o ghar mein
Ab bhi lahad me unke barabar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

Kya shan paayi allahu-akbar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

 

Kaisi hai rounaq “Usman O Umar bhi”
Darbar mein hain hazir ‘Ali bhi
Karte hain bai’at Shabbir O Shabbar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

Kya shan paayi allahu-akbar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

 

Ashaab ke gun gaate rahenge
Izzat pe pahra dete rahenge
Ham bhi Ujagar ! Khadim hain Naukar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

Kya shaan payi allahu-akbar
Siddiqu e akbar – Siddiqu e akbar

 

Manqabat siddiqu e akbar lyrics

Kya shaan paai allahu akbar lyrics

By sulta