Karam Ki Ik Nazar Ham Par Khudara Ya Rasoolallah Lyrics

 

 

करम की इक नज़र हम पर खुदारा या रसूल्लाह

तुम्ही हो बे सहारों का सहारा या रसूल्लाह

Karam Ki Ik Nazar Ham Par Khudara Ya Rasoolallah

Tumhi Ho Be-Saharon Ka Sahara Ya Rasoolallah

 

 

ग़रीबों के हैं दाता बेकसों के आप बाली हैं

मुहब्बत आप की दिल में है लेकिन हाथ खाली हैं

इधर भी अपनी रह़मत का इशारा या रसूल्लाह

Gharibo(N) Ke Hein Data Bekason Ke Aap Baali Hain

Muhabbat Aap Ki Dil Me Hai Lekin Haath Khaali Hain

Idhar Bhi Apni Rahmat Ka Ishara Ya Rasoolallah

 

 

पुकारा है मदद को या नबी हम ग़म के मारों ने

तुम्हारे दर पे जाके भीक मांगी बादशाहों ने

हमें भी आसरा है बस तुम्हारा या रसूल्लाह

Pukara Hai Madad Ko Ya Nabi Ham Gham Ke Maaron Ne

Tumhare Dar Pe Jaake Bheek Maangi Baadshahon Ne

Hame Bhi Aasra Hai Bas Tumhara Ya Rasoolallah

 

 

बने बिगड़ी हमारी हम भी हैं क़िसमत के मारों में

तुम्हें उम्मत है प्यारी और तुम अल्लाह के प्यारों में

बचा लो टूटने से दिल हमारा या रसूल्लाह

Baney Bigdi Hamari Ham Bhi Hain Qismat Ke Maaron Me

Tumhe Ummat Hai Pyaari Aur Tum Allah Ke Pyaron Me

Bacha Lo Tootne Se Dil Hamara Ya Rasoolallah

 

 

मेरा ई़मान है आ़शिक़ को जब भी ग़म सताते हैं

शहंशाहे जहां उसकी मदद को पहुंच जाते हैं

किसी ने जब कहीं से भी पुकारा या रसूल्लाह

Mera Imaan Hai Aashiq Ko Jab Bhi Gham Satatey Hain

Shahanshahe Jahan Uski Madad Ko Pahunch Jaate Hain

Kisi Ne Jab Kahin Se Bhi Pukara Ya Rasoolallah

 

 

तड़पता है मेरा दिल और बरसती हैं बहुत आंखें

मदीने के नज़ारों को तरसती हैं बहुत आंखें

बुला लो अब मदीने में खुदारा या रसूल्लाह

Tadapta Hai Mera Dil Aur Barasti Hain Bahut Aankhen

Madine Ke Nazaron Ko Tarasti Hain Bahut Aankhen

Bula Lo Ab Madine Me Khudara Ya Rasoolallah

By sulta