Alvida Alvida Ey Meri Darsgaah Lyrics

अलविदा अलविदा ऐ मेरी दर्सगाह

जो मिला है दर से तुझसे हर फ़िक्र को बता दूं

ग़मे उम्मते मुहम्मद हर दिल का ग़म बना दूं

तुझसे तो है मिला ये मुझे जीने का सलीक़ा

पास दारे चमन गुलिस्ताने बक़ा
अलविदा अलविदा ऐ मेरी दर्सगाह

अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा

 

 

तेरे दर और दीवार अपनी जगह
तुझ में तालीम थी मिसले गारे हिरा

तर्जुमानी-ए-दिल कर दूं जुमला नुमा
मुझ से कमजोर में तो नहीं हौसला

पास दारे चमन गुलिसताने बक़ा
अलविदा अलविदा ऐ मेरी दर्सगाह

मेरे सौमो सलाह और दुआ की जगह

अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा

 

 

सबक़ मुझको मिला एक इखलास का
ख्वार राहों में थे फिर भी आया मजा

इसकी लज़्जत का एहसास तो ईमा ही दे
बन्दा-ए-मग़रिबी तो पशेमां हुआ

पास दारे चमन गुलिसताने बक़ा
अलविदा अलविदा ऐ मेरी दर्सगाह

मेरे सौमो सलाह और दुआ की जगह

अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा

 

 

मैं तो अंदर में था खफा हो चुका
तुम चराग़े सिराते हिदायत बना

तूने गुफ्तार दी टूटते लफ़्ज़ को
और किरदार ज़ादे शहे अमबिया

पास दारे चमन गुलिसताने बक़ा

अलविदा अलविदा ऐ मेरी दर्सगाह
मेरे सौमो सलाह और दुआ की जगह

अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा

 

 

हम से सरज़द हुई हैं खतायें कई
और तलाफ़ी को जोहदे मुसलसल ना थी

आस हैदर गुज़र ही करेंगे सभी
मोहसिनों की रविश ये रही है सदा

पास दारे चमन गुलिसताने बक़ा

अलविदा अलविदा ऐ मेरी दर्सगाह
मेरे सौमो सलाह और दुआ की जगह

अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा अलविदा

By sulta